Painful Alone Sad Shayari in Hindi | पैनफूल सैड शायरी हिंदी में

Painful Alone Sad Shayari in Hindi | पैनफूल सैड शायरी इन हिंदी | Leave me Alone Shayari in Hindi | Alone shayari 2 lines in hindi | Alone sad shayari in hindi | पैनफूल सैड शायरी हिंदी में.

Painful Alone Sad Shayari in Hindi

मुझे इतना याद आकर बेचैन न करो तुम
एक यही सितम काफ़ी है कि साथ नहीं हो तुम.

 

अगर बिकने पे आ जाओ तो घट जाते हैं दाम अक्सर,
न बिकने का इरादा हो तो क़ीमत और बढ़ती है..

 

मुझे आज किस्सा बना दिया.. उन्होंने ने भी..!!
जो कल तक.. मुझे अपना हिस्सा बताया करते थे..

 

फिज़ा को लग गई शायद तेरे आने की ख़बर!
उतरा है मेरे शहर में बड़े कमाल का मौसम!!

 

लौटे हैं बहुत सारे लोग चाँद से मिट्टी बटोर के
हमने तो जमीं पर ही अपना सितारा चुन लिया.

 

किसी को नींद आती है मगर ख्वाबों से नफरत है,
किसी को ख्वाब प्यारे हैं मगर वो सो नहीं पाता.. 🥀

 

बस वो मुस्कुराहट ही कही खो गई है,
बाकी तो मै भी बहुत खुश हू आजकल…

 

उन्हें ये भरम है कि मुह फ़ेर लेने से भूल जाएंगे हमे
कौन समझाए उन्हें कि आँख मूँद ने से रात नहीं होती.

 

Painful Alone Sad Shayari in Hindi

नज़र – नज़र में अदाएं जमाल रखते थे ,
हम एक शख्स का कितना ख्याल रखते थे।।

 

मुझे ऐसा ही “जिंदगी” का एक पल चाहिए,
प्यार से भरी बारिश और संग मे “तू” चाहिए..!!!

बेपनाह मोहब्बत हजारो सजदे और बेहिसाब मन्नते,,
क्या कुछ नहीं किया था मैंने तुझे पाने के लिए।।

 

शर्मायी सी नज़रों का समझो तो इशारा तुम,
झुकती हुई पलकों ने फिर तुझको बुलाया है।

 

सब कुछ भूलकर आगे बढ़ रहा हूं
अब उसकी याद भी याद से आती है मुझे!

 

मौजूद हैं लाखों इस जहाँ में फ़िर भी…
तुमपर ही मैनें भरोसा करनें की ग़लती की है…!!

 

मेरी चाहत की बहुत लंबी सजा दो मुझको
कुर्ब तन्हाई में जीने की दुआ दो मुझको 🖤

 

Painful Alone Sad Shayari in Hindi

चलो किसी अंजान से पूछते हैं रास्ते का पता…
अपनों की वज़ह से ही तो… ये हाल हुआ है…!!

 

जो कह सका… वो कह चुका हूँ तुमसे…
तुम वो समझ लो… जो कहना बाक़ी रह गया था…!!

 

खुशबू की तरह ख़ुद को समझता था मैं…
बिना वज़ह ही भरम तोड़नें में लगे हैं वो सब…!!

 

बचा कर रखो वो ग़ुरूर अपना…
जब अपनें दम पर रहोगे… तब मैं देखनें आऊँगा…!!

 

इश्क़ करके देखना चाहिए ज़रूर…
पता चल जाता है हक़ीक़त में ईबादत क्या चीज़ है…!!

हमने उसके लब-ओ-रुख़्सार को छूकर देखा,
हौसले आग को गुलज़ार बना देते हैं !!

 

इशरत-ए-क़तरा है दरिया में फ़ना हो जाना
दर्द का हद से गुज़रना है दवा हो जाना.

 

नींद तो दर्द के बिस्तर पे भी आ सकती है
उनकी आग़ोश में सर हो ये ज़रूरी तो नहीं

 

अपनी ज़िन्दगी में वही इंसान कामयाब है !
जिसे टूटे को बनाना और रूठें को मनाना आता हैं !!

 

Painful Alone Sad Shayari in Hindi

बेनाम सा ये दर्द ठहर क्यूँ नहीं जाता
जो बीत गया है वो गुज़र क्यूँ नहीं जाता

 

मुद्दत गुज़र गयी कि यह आलम है मुस्तक़िल
दर्द का कोई सबब नहीं है मगर दिल उदास है.

 

ना दर्द हुआ सीने में, ना माथे पे शिकन आयी
इस बार जो दिल टूटा तो बस चेहरे पे मुस्कान आयी

 

हर मुलाक़ात पर वक़्त का तकाज़ा हुआ
हर याद पर दिल का दर्द ताज़ा हुआ

 

बहुत दर्द हैं ऐ जान-ए-अदा तेरी मोहब्बत में
कैसे कह दूँ कि तुझे वफ़ा निभानी नहीं आती

 

तुम वजह हो मेरे मुस्कुराने की ,
मगर कोई वजह नहीं है तुम्हे चाहने की।

तू है सूरज तुझे मालूम कहाँ रात का दर्द
तू किसी रोज मेरे घर में उतर शाम के बाद

 

Painful Alone Sad Shayari in Hindi

तू ही मेरा प्यार है ,तू ही मेरी बंदगी।
तू ही मेरा ख्वाब है ,तू ही मेरी ज़िन्दगी।

 

तुम न कर सकोगे मेरे दिल के दर्द का इलाज़
ज़ख्म को नासूर हुए मुद्दतें गुजर गयीं

 

इस तरह मेरी तरफ मेरा मसीहा देखे
दर्द दिल में ही रहे और दवा हो जाए

 

वो जान गयी थी हमें दर्द में मुस्कराने की आदत है
देती थी नया जख्म वो रोज मेरी ख़ुशी के लिए

 

बहुत जुदा है औरों से मेरे दर्द की कहानी
जख्म का निशाँ नहीं और दर्द की इन्तेहाँ नहीं

 

बैठे है रहगुज़र पर दिल का दिया जलाये
शायद वो दर्द जाने, शायद वो लौट आये.

 

बढ़ रहा है दर्द गम उस को भूला देने के बाद,
याद उसकी ओर आई खत जला देने के बाद!

 

Painful Alone Sad Shayari in Hindi

दर्द की शाम हो या सुख का सवेरा हो
सब कुछ कबूल है अगर साथ तेरा हो

 

खुद भी रोता है, मुझे भी रुला के जाता है।
ये बारिश का मौसम, उसकी याद दिला के जाता हैं।

तजुर्बे ने हमें एक बात तो सिखाई है
एक नया दर्द ही पुराने दर्द की दवाई है

 

लोग कहते हैं हम मुस्कराते बहुत हैं,
और हम थक गए दर्द छुपाते छुपाते.,

 

सुना है तुम्हारी एक निगाह से कत्ल होते हैं लोग..
एक नज़र हमको भी देख लो.. ज़िन्दगी अच्छी नहीं लगती

 

कमाल का जिगर रखते हैं कुछ लोग
दर्द लिखते हैं और आह तक नहीं करते

 

रूह से रूह का रिश्ता बना लेते है ना ,
चलो इतनी गहराई से दिल लगा लेते है ना।

 

वो इतना रोई मेरी मौत पर मुझे जगाने के लिए..
मैं मरता ही क्यूँ अगर वो थोडा रो देती मुझे पाने के लिए..!!

 

निगाहों से भी चोट लगती है.. जनाब..
जब कोई देख कर भी अन्देखा कर देता है.

 

वो दुआएं काश मैने दीवारों से मांगी होती,
ऐ खुदा.. सुना है कि उनके तो कान होते है!!

 

आईना आज फिर रिशवत लेता पकडा गया,
दिल में दर्द था ओर चेहरा हंसता हुआ पकडा गया.

 

Painful Alone Sad Shayari in Hindi

क्या प्यार में सोचा था क्या प्यार में पाया,
तुझे पाने की चाहत में खुद को मिटाया।

 

एक उमर बीत चली है तुझे चाहते हुए,
तू आज भी बेखबर है कल की तरह।

 

खैरियत नहीं पूछते मेरी मगर खबर रखते हैं,
मैंने सुना है वह मुझ पर ही नजर रखते हैं।

 

वजह नफरतों की तलाशी जाती है,
मोहब्बत तो बिन वजह ही हो जाती है।

 

दिल को बुझाने का बहाना कोई दरकार तो था,
दुःख तो ये है तेरे दामन ने हवायें दी हैं।

 

है इश्क़ की मंज़िल में हाल कि जैसे,
लुट जाए कहीं राह में सामान किसी का।

 

वो तेरे खत तेरी तस्वीर और सूखे फूल,
उदास करती हैं मुझ को निशानियाँ तेरी।

 

बिछड़कर फिर मिलेंगे यकीन कितना था,
बेशक ये ख्वाब था मगर हसीन कितना था।

 

अपनी जिंदगी अजीब रंग में गुजरी है,
राज किया दिलों पे और मोहब्बत को तरसे।

 

बंद कर देना खुली आँखों को मेरी आ के तुम,
अक्स तेरा देख कर कह दे न कोई बेवफा।