Muskurahat Shayari in Hindi | मुस्कुराहट शायरी हिंदी में.!

Muskurahat Shayari in Hindi | आपकी मुस्कुराहट शायरी | Muskurahat Shayari in English | मुस्कुराहट शायरी इन हिन्दी | मुस्कान शायरी इन हिंदी | Muskurahat Shayari for GF | मुस्कुराहट शायरी हिंदी में.!

Muskurahat Shayari in Hindi

एक किताब की तरह हु मैं ,
कितनी भी पुरानी हो जाये पर उसके अल्फाज नहीं बदलेंगे ,
कभी याद आये हमारी तो पन्ने पलट कर देख लेना ,
हम आज जैसे है कल भी वैसे ही मिलेंगें !!

 

रात तो क्या पूरी ज़िंदगी भी जाग कर गुजार्दू
तेरी खाति बस तू एक बार कह कर तो देख की
मुझे तेरे बिना नींद नहीं आती…!!!

 

उसने अपनी मोहब्बत के सच्ची होने का
कुछ ऐसे सबूत दिया
मेरे पूछने पर जब उसने ये जवाब दिया…
मैं तुम्हे बाद में नही छोड़ पाऊंगी इसलिए
अभी छोड़ रही हूं.

 

छोटे थे तब जल्दी बड़े होना चाहते थे,
पर आज समझ आया कि अधूरे सपने और टूटे
दिल से ज्यादा अधूरा होमवर्क और टूटे खिलौने
काफी अच्छे थे …!!

 

तेरी मुश्किल न बढ़ाऊंगा चला जाऊंगा
अश्क़ आंखों में छुपाऊंगा चला जाऊंगा
अपनी दहलीज पर कुछ देर पड़ा रहने दें मुझे ,
जैसे ही होश में आऊंगा चला जाऊंगा.

 

Muskurahat Shayari in Hindi

मोहब्बत की तड़प वही समझ सकता हैं 🙆
जिसने किसी से सच्चा प्यार किया हो
क्योंकि सच्ची मोहब्बत में और कुछ मिले या न मिले
पर दर्द और आंसु जरूर मिलते हैं 🙆

 

हसीन गुलाब अब किताबों में मुरझाने लगे हैं,
लब उनके जो अब औरों संग मुस्कुराने लगे हैं,

 

दीवानों की महफिल थी , वीरान कर गए ,
हस्ती खेलती ज़िंदगी थी ,शमशान कर गए।

 

अब हम भी दुनिया के रंग में रंगने लगे है
जो ज़रूरत के समय काम आए सिर्फ
उन्हे याद रखने लगे है
क्या फायदा उन लोगो को याद करके
जो दिल से नफ़रत और चेहरे पर प्यार
का दिखावा करने लगे है।

 

अपनी तबीयत के हालात हमसे बताए ना गए।
वो आए ही इतनी जल्दी में के ज़ख्म दिखाए ना गए।।
और दस्तक भी दी उसने उस चौखट पर जाकर ।
जहा बुझे हुए दिए फिर्से जलाए ना गए।।

 

Muskurahat Shayari in Hindi

उसकी बात की कशिश में उलझ गये हैं…
क्या सुलझे हैं जरा सा और बिखर गये हैं…
आँखों से कह जाता है वो कई किस्से…
क्या इश्क़ है जरा सा और महक गये हैं…

 

रिश्ते मन से बनते हैं, बातों से नहीं।
कुछ लोग बहुत सी बातों के बाद भी अपने नहीं होते।
और कुछ शाँत रहकर भी अपने बन जाते हैं |

 

तुम्हारी ज़िन्दगी में प्यार का सैलाब हो जाते
तुम्हारे मन के पतझड़ में भी हम शादाब हो जाते
हमारा बस नहीं चलता,अगर चलता तो ये करते
तुम्हारी नींद में घुलकर तुम्हारा ख़्वाब हो जाते !

 

तेरे ना होने से जिन्दगी मे बस इतनी सी कमी है
मै चाहे लाख मुस्कुरा लू पर आंखो में नमी है.

 

गर खोली नहीं तूने कभी किताब-ए-दिल..,
तो कहीं कहीं वो पन्ना फिर मुड़ा- क्यों है ?
तुझे चाहा पर तुझसे कभी कुछ ना चाहा..,
मेरे हमदम तू मुझसे फिर यूँ खफा-खफा क्यों है ?
नहीं वास्ता तुझसे मेरा अगर कुछ..,भी
तो हर ख्याल फिर तुझसे ही जुड़ा-जुड़ा क्यों है ?

 

Muskurahat Shayari in Hindi

वो कहते हैं…
कैसे बयां करे हम अपना हल-ए-दिल
हमने कहा बस…तीन अलफ़ाज़ काफी हैं प्यार का
इज़हार करने के लिए.

 

अच्छा लिखना ही सब कुछ नहीं होता जनाब,
पढ़ने वाले भी तो दिलदार होने चाहिएं….!!
और पढ़ने वाले आप जैसे दिलदार हो तो
फिर कहना ही क्या.❤️

 

सफर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो,
नजर वहीं तक है जहाँ तक तुम हो,
हजारों फूल देखे हैं इस गुलशन में मगर,
खुशबू वहीं तक है जहाँ तक तुम हो।

 

लोगो से मिलोगे तो मुझे भूरा ही पाओगे अगर
हमसे आकर मिलोगे तो मुस्कुरा कर जाओगे
कभी वक़्त हो तो हमसे आकर मिलो फिर
तुम बार बार हमसे मिलना चाहोगे !

 

चुपचाप रोये, जिन्दगी हँसकर गुज़ार दी
सदियों  पुरानी  पीर  किसी ने उभार दी
जो पूछता है मैंने वफाओं में क्या किया
मैंने सनम के इश्क पर, अपनी उम्र वार दी.

 

Muskurahat Shayari in Hindi

गजब के लोग बसते हैं इस दुनियां में भी.??
एक_तरफा ही सही.??
काेई किसी को भुला नहीं पाता  …
तो किसी को याद तलक नहीं  आती.. 🔥🌹

 

हम जुदा हुए थे फिर मिलने के लिए
जिंदगी की राहों में संग चलने के लिए
तेरे प्यार की कशिश दिल में बसी है कुछ इस कदर,
दुआ है तेरे साथ मिले ज़रा संभलने के लिए।।

 

किसी  की  खातिर….
साँसे  रूक सी जाती हैं, लेकिन जान नहीं जाती,
दर्द बहाेत हाेता हैं पर आवाज नहीं जाती,❤

 

चेहरे पर मुस्कराहट हमेशा होनी चाहिये
क्योकि एक Smile से फोटो अच्छी आ सकती है
तो जिन्दगी कितनी खूबसूरत हो सकती है !

 

किस्मत यह मेरा इम्तेहान ले रही है
तड़पकर यह मुझे दर्द दे रही है
दिल से कभी भी मैंने उसे दूर नहीं किया
फिर क्यों बेवफाई का वह इलज़ाम दे रही है….!!

 

Muskurahat Shayari in Hindi

यादे कभी भुलाई नहीं जाती….
गलतियां कभी दोहराई नहीं जाती….
आज भी उतना ही प्यार करते है हम आपसे,
पर अब क्या करे तकदीर से
सच्ची मोहब्बत मिलाई नहीं जाती ।।

 

वो जो रखते थे मोम सा दिल ❤️
ना जाने क्यों हमसे मिलकर पत्थर के हो गए
मिलते थे हमसे जो हस हस कर
ना जाने क्यों किसी और की मुस्कान बन गए.

 

कुछ रिश्तें जिस हाल में है
उन्हें उसी हाल में छोड़ देना बेहतर है,
कभी कभी उन्हें ज्यादा संभालने में
हम खुद ही बिखरने लगते है !!

 

जब याद आती है मुस्कुरा लेते हैं,
कुछ पल हर गम भुला देते हैं,
कैसे भीग सकती हैं उनकी पलकें,
उनके हिस्से के आंसू जो हम बहा लेते हैं….!!

 

दो दिल जिनमे अकसर झगड़ा हो जाता है उनके लिए …
तू किसी और के कांधे पर, मैं किसी और की बाहों में,
यही होगा यार.. अगर हम यूँही लड़ते रहे..!

 

Muskurahat Shayari in Hindi

नया इक रिश्ता पैदा क्यूँ करें हम
बिछड़ना है तो झगड़ा क्यूँ करें हम
नहीं दुनिया को जब परवाह हमारी
तो फिर दुनिया की परवाह क्यूँ करें हम.

 

जिन्दगी मे हर दम हँसते रहो हँसना जिन्दगी
की जरूरत है जिन्दगी को इस अंदाज मे जिओ कि
आपको देखकर लोग कहे वो देखो जिन्दगी
कितनी खूबसूरत है !

 

मै रास्ते पूछते हुए चल रहा था
मंजिलो के काबिल नहीं था मै शायद
हर किसी ने जो
मेरे घर का पता पूछा मुझसे.