Sad Shayari in Hindi For Girlfriend | सैड शायरी फॉर गर्लफ्रेंड

सैड शायरी फॉर गर्लफ्रेंड | Sad Shayari in Hindi For Girlfriend | सैड शायरी हिंदी में लिखी हुई | Sad Shayari in Hindi For Boyfriend | सैड शायरी इन हिंदी फॉर बॉयफ्रेंड .

Sad Shayari in Hindi For Girlfriend

ख़ून-ए-अरमा से……

ख़ून-ए-अरमा से लिखी अपनी कहानी मैंने,
ज़िंदगी तुझसे कभी शिकश्त न मानी मैंने

ख़्वाब कहते है किसे ये कोई मुझसे पूछे,
ख़्वाबज़ारों में गुज़ारी है जवानी मैंने।

जिसने तूफ़ाँ था उठाया भारी मेरे घर में,
अपने कमरे से वो निशानी हटा दी मैंने।

इक अमीरजादे ने कैसे तुझे छिना है मुझसे
ये कहानी भी सुनी तेरी ज़बानी मैंने.!!

 

मेरी मोहब्बत कि………

मेरी मोहब्बत कि कहानी कुछ ऐसे देखी गई,
जैसे काटकर गाना,कोई फिल्म देखी गई।

उससे बिछड़ने पर, फिर इन आंखों में यारों,
बेमौसम के बेइंतहा, बरसात देखी गई।

भला कैसे छुपाता अपने गमों का राज मैं,
मेरे चहरे से पहले, मेरी आंखें देखी गई।

करते कोशिश,तो मैं बच भी जाता मगर,
मेरी नब्ज टटोलकर, थोड़ा देर से देखी गई।

जिंदा थे तो तरसते थे, मिलने के लिए यारों,
बाद मरने के हर रोज हमारी, तस्वीर देखी गई!!

 

अदावत भी तुम हो…..

अदावत भी तुम हो ,इनायत भी तुम हो
तड़पती हुई दिल की चाहत भी तुम हो,

सनम ख्वाब तेरे सजाते हैं हम
ठहरी हुई दिल की हसरत भी तुम हो,

कहीं आज सज़दा जो करने लगे हम
दुआ हो मेरी तुम, इबादत भी तुम हो।

 

Sad Shayari in Hindi For Boyfriend

मोहब्बत की हर बात……

मोहब्बत की हर बात पे आँसू बहा क्यों
तेरा ज़िक्र तेरा चर्चा हर वक़्त रहा क्यों?

उम्मीद यूँ तो मुझको कुछ ज़्यादा ना थी
जब तूने सुनना नहीं था मैंने कहा क्यों?

तूने तो मेरी बाबत सोचा ना होगा कभी
आख़िर तेरा ही इंतज़ार मुझे रहा क्यों?

दिल पर माना किसी का इख़्तियार नहीं
ग़म देना तेरी आदत सही मैंने सहा क्यों?

आज नहीं तो कल शायद तू मिल जाये
यह रौशन ख़्याल मेरे दिल में रहा क्यों?

 

तब जा के………

तब जा के हुआ अपना ये चेहरा गँवारा हमें,
दबी आवाज़ में जब उस नज़र ने पुकारा हमें।

दिल ओ दिमाग को नहीं समझती कोई ज़ुबाँ,
दीवाना कर गया उनका वो पहला इशारा हमें।

फ़लक छोड़के छज्जे पे आ गिरा था उस रात,
चाँद से भी ख़ूबसूरत लगा वो सितारा हमें।

क्या खबर थी पत्थरों में दफ़्न होती हैं चिंगारियाँ,
पल भर में ख़ाक कर गया वो शरारा हमें।

इस दफ़ा पूछेंगे उस से पता उनका
वो शख्स मिला कभी जो दुबारा हमें!!

 

दर्द छलकाते हुए…..

दर्द छलकाते हुए निकल आए हैं आंसू,
उसे याद करते हुए निकल आए हैं आंसू।

मंज़र बहुत खौफनाक देखा है आंखों ने,
डरते थरथराते हुए निकल आए हैं आँसू।

मेरी खामोशिया क्यू उसे समझ नहीं आती,
नतीज़न चिल्लाते हुए निकल आए हैं आँसू।

रोशनी सारी जिंदगी की बह रही हो जैसे,
इस कदर जगमगाते हुए निकल आए हैं आँसू।

वो लम्हें, वो दिन,वो दीवानगी में कटी उम्र,
एक शख़्स को भुलाते हुए निकल आए हैं आँसू!!

 

Sad Shayari in Hindi For Girlfriend

आँख अश्कों का समंदर है तो है,
वक़्त के हाथों में खंजर है तो है।

मैंने कब माँगी खुदा तुझसे ख़ुशी,
दर्द ही मेरे मुकद्दर में है तो है।

फूल कुछ चाहे थे तुझसे बागबां,
हाथ में तेरे भी पत्थर है तो है।

थक गया हूँ अब तो सोने दो मुझे,
सामने काँटों का बिस्तर है तो है.!!

 

याद क्या करना…….

ख़ुद को इस तरह बर्बाद क्या करना,
जो गुज़र गया उसे याद क्या करना।

दिल ही तो टूटा है, क़यामत तो न हुई,
छोटी छोटी बातों पर फसाद क्या करना।

सारे ख़ुदा शायद अब बहरे हो चुके हैं,
बहरे ख़ुदाओं से अब फरियाद क्या करना ।

कतर के पंख उसने पिंजरा खोल दिया,
इस तरह परिंदों को आज़ाद क्या करना ।

ये प्यार मोहब्बतअब हमसे ना हो पायेगा,
जो तेरे साथ न किया, तेरे बाद क्या करना.!!

 

बहुत देर तक…….

बहुत देर तक मैं निहारा गया था,
नज़र से तेरी जब उतारा गया था।

मेरी रूह तुम को खुदा मानती थी,
तुम्हें कृष्णा कह के पुकारा गया था।

पता पूछ कर घर का हैराँ है दुनिया,
बदन का कफ़न पे इशारा गया था!!

 

Sad Shayari in Hindi For Boyfriend

तेरी यादों की बदली आज फिर से छाई है,
मेरे ख्वाबों में पगली आज फिर से आई है।

मेरा दिल खो गया है मुझसे जुस्तजू में तेरी,
अब तलक उसकी वापसी की खबर न आई है।

एक पल के लिए लगा तू पास बैठी है,
ऑंख जब खोली तो देखा कि वो तन्हाई है।

कब मुझे ऐसी खबर सुनने को मिलेगी बता,
घर मेरे मुझसे तू मिलने के लिए आई है।

मेरी दो चार किताबों से मुझे मत आँको,
अब भी कुछ बातें मैंने दिल में ही छुपाई है।

इश्क़ में है नया रिवाज-ए-दगा सूफ़ी,
दुनिया में मुझको गर मिला तो क्या बुराई है!!

 

ये शहर है अंजान कहाँ रात गुज़ारूँ,
है जान-न-पहचान कहाँ रात गुज़ारूँ।

दामन में लिए फिरता हूँ मैं दौलत-ए-ग़म को,
हर राह है सुनसान कहाँ रात गुज़ारूँ,

कुटिया तो अलग साया-ए-दीवार नहीं है,
मुश्किल में फंसी है जान कहाँ रात गुज़ारूँ।

इस राहगुज़र पर तो शजर भी नहीं कोई,
और सर पे है तूफ़ान कहाँ रात गुज़ारूँ।

बहरूपिए फिरते हैं हर इक राहगुज़र पर,
कोई नहीं इंसान कहाँ रात गुज़ारूँ।

दर है कोई और न दरीचा ही खुला है,
हर कूचा है वीरान कहाँ रात गुज़ारूँ.!!

 

Sad Shayari in Hindi For Boyfriend

आँखों को कुछ ख़्वाब दिखा कर मानेंगे,
आप हमारे होश उड़ा कर मानेंगे।

तय तो ये था पिछली बातें भूलनी हैं,
आप मगर सब याद दिला कर मानेंगे।

घर का झगड़ा गर बाहर आ जाएगा,
बाहर वाले लोग अंदर आ कर मानेंगे।

चाहे फिर आवाज़ चली जाए लेकिन,
हम उस को आवाज़ लगा कर मानेंगे।

घर पक्का करने की बातें करते हैं,
यानी वो दीवार उठा कर मानेंगे।

तुझको छूने की चाहत में दीवाने,
शायद अपने हाथ जला कर मानेंगे!!

 

क्या गिला करें तेरी मजबूरियों का हम,
तू भी इंसान है कोई खुदा तो नहीं,
मेरा वक़्त जो होता मेरे मुनासिब,
मजबूरिओं को बेच कर तेरा दिल खरीद लेता।