Purana Dosti Shayari in Hindi | पुराने दोस्त पर शायरी इन हिंदी

Purana Dosti Shayari in Hindi : – दुनिया में दोस्ती से बढ़ कर और कोई रिस्ता नहीं होता है। आपके अपने और आपकी जान आपका साथ छोड़ सकता है पर आपके दोस्त सायद ही आपका साथ छोड़ सकते है।

रोज बरोज कही सरे हमारे दोस्त बनते है पर एक अश्ली दोस्त वही होता है जो कितने भी दिन हो जाये कुछ दिनों बात करो या ना करो पर वह पुराने दोस्ती हमेशा बानी रहती है । तो इसी लिए में आपके पुराने दोस्तों के लिए यह सायरी लेके आया हु।

Purana Dosti Shayari in Hindi

तुमने कुछ कहा नहीं, पर फिर भी मैंने सुना
तुम्हारी खामोशी भी मुझे सुनाई देती है
तुम चुप रहकर भी बहुत कुछ बोल जाते हो
और मैं वो सब कुछ सुन लेती हूँ
जो तुम अधुरा छोड़ जाते हो।

दोस्ती की महफ़िल सजे ज़माना हो गया,
लगता है खुल के जिए ज़माना हो गया,
काश कहीं मिल जाये वह काफिला दोस्तो का,
अपनों से बिछड़े ज़माना हो गया..

दिल से दोस्ती उसने कभी निभाई थी क्या
तन्हाइयों में उसे भी मेरी याद आई थी क्या
मैं तो सच में दोस्त मानता था उसे
उसने मेरी दोस्ती में भी शर्त लगाई थी क्या।

चुभ गई अगर कोई बात तुम्हारी
तो मेरा किरदार खराब भी हो सकता है…
किसी की बात पर फिसला नही करते दोस्त
तारीफ की शक्ल में तेजाब भी हो सकता है.

हर किसी कै किसमत मै ऐसा लिखा नही हौता..
हर मंजिल मै तैरै जैसा दौस्त का पाता नही मिलता..
मैरी तकादीर हौगी कुछ खास..
वरना तैरै जैसा यार मुझै कहा मिलता.. 👬

Purana Dosti Shayari in Hindi

तुम सदा मुस्कुराते रहो ये तमन्ना है हमारी,
हर दुआ में माँगी है बस खुशी तुम्हारी,
तुम सारी दुनिया को दोस्त बना कर देख लो,
फ़िर भी महसूस करोगे कमी हमारी।

 

सबसे अलग सबसे न्यारे हो आप,
तारीफ कभी पुरी ना हो इतने प्यारे हो आप,
आज पता चला कि जमाना क्यों जलता है हमसे,
क्यों कि दोस्त तो आखिर हमारे हो आप…

 

जो दिल के हो करीब उसे रुसवा नहीं करते,
यूँ अपनी दोस्ती का तमाशा नहीं करते,
खामोश रहोगे तो घुटन और बढ़ेगी,
अपनों से कोई बात छुपाया नहीं करते।

 

दिल में बसे हो,, जरा ख्याल रखना
दिल में बसे हो जरा ख्याल रखना
वक्त मिल जाए तो याद करना
हमें तो आदत है तुमको याद करने की
तुम को बुरा लगे तो माफ करना!!

 

Purana Dosti Shayari in Hindi

जिसका वजूद नहीं, वो हस्ती किस काम की,,
जो मजा ना दे,,  वो  मस्ती किस काम की,
जहां दिल ना लगे, वो बस्ती किस काम की
हम आपको याद ना करें,,
तो फिर हमारी दोस्ती किस काम की!!!

 

जो तू चाहे वो तेरा हो,
रोशन रातें और खूबसूरत सवेरा हो,
जारी रहें हमारी दोस्ती का सिलसिला,
कामयाब हर मंजिल पर दोस्त मेरा हो..

 

गम बहुत था दिल में पर जाहिर किया नही
आँखों में आंसू थे मगर किसी को दिखाया नही
इतना ही फर्क है मुहब्बत और यारी में
प्यार ने कभी हंसाया नहीं
और दोस्त ने कभी रूलाया नही.

 

गुजर जाता हैं वक्त कुछ यादे बनकर
महज बातें रह जातीं है कहानी बनकर
मगर सच्चे यार तो दिल में बसते है
कभी होठों की मुस्कान बनकर
तो कभी आँखों के आंसू बनकर।

 

दोस्ती की है तो हक से निभाएंगे
तुम बार-बार रुठोगे, तो हम हर बार मनाएंगे
और मुझसे दूर जाने की सोचना भी मत,
क्योंकि हम जब तक जिंदा रहेंगे, तुम्हें हर रोज सताएंगे!!

 

बोलती है दोस्ती चुप रहता है प्यार,
हँसाती है दोस्ती रुलाता है प्यार,
मिलाती है दोस्ती जुदा करता है प्यार,
फिर भी लोग Naa Jane क्यों दोस्ती छोड़कर
करते हैं प्यार।

 

Purana Dosti Shayari in Hindi

यदि तुम बेचो अपनी दोस्ती तो पहले ग्राहक
हम होंगे, तुम्हे अपनी कीमत पता नहीं होगी
पर तुम्हे पाकर सबसे खुशनसीब हम होंगे.

 

प्यार के लिए क्या दोस्त छोड़ दू,
इतना मैं नादान हूं क्या,
तू जान है और वो सास है मेरी,
जीने के लिये सास लेना छोड़ दू इतना पागल हूं क्या।

 

पाना है जो मुकाम वो अभी बाकि है,
अभी तो आये है जमी पर ,
आसमां की उड़न अभी बाकि है…
अभी तो सुना है सिर्फ लोगो ने मेरा नाम,
अभी इस नाम की पहचान बनाना बाकि है।

 

यादें दो दिलों के फैसले को काम करती है
ज़िन्दगी आप जैसे दोस्तों पर नाज़ करती हैं,
मत हो उदास के आप दूर हैं हमसे क्यूँ के..
दूरियां ही रिश्तों को और खास करती हैं. ?

 

खुश हूँ और सबको खुश रखता हूँ,
लापरवाह हूँ फिर भी सबकी परवाह
करता हूँ.. 😀😀😀😀
मालूम है कोई मोल नहीं मेरा,
फिर भी,
कुछ अनमोल लोगो से
दोस्ती रखता हूँ।
😀😀😀😀😀😀😀

Purana Dosti Shayari in Hindi

दिल में जगे अरमानो को कभी मिटा न देना,
देकर होतो को कभी रुला न देना,
इस बात का बहाना की हम दूर है आपसे,
कभी अपने इस दोस्त को भुला न देना.

 

ख़ुशी की परछाइयों का नाम है जिंदगी,
गमों की गहराईओं का जाम है जिंदगी,
एक प्यारा सा दोस्त है हमारा यहाँ,
उसकी प्यारी सी हँसी का नाम है जिंदगी ।

 

किसे बताये तुम्हे कितना प्यार करते है,
सोचते है कह दे पर कहने से डरते है,
कही दोस्ती का रिश्ता टूट न जाये हमारा,
बस इसलिए हम चुप रहा करते है।

 

जान की बाज़ी लगा दी जुवारी बनकर,
दिल हतेली पर ले आये पुजारी बनकर,
जिस वक़्त दुआ क दरवाज़े खुलेंगे…
ए दोस्त मांग लेंगे तुझे खुदा से भिखारी बनकर.

 

स्मार्ट हो आप तो बुरे हम भी नहीं,
इंटेलीजेंट हो आप तोह बुद्धू हम भी नहीं,
दोस्ती कर के कहते हो बिजी है हम,
याद करना हमसे सीखो फ्री तो हम भी नहीं.

 

Purana Dosti  Shayari in Hindi

हमारे पास आपकी “दोस्ती” का नजराना है,
लेकिन दिल तो आपकी दोस्ती का दीवाना है,
नए दोस्त मिले तो भुला न देना हमें,
क्यूंकि यह दोस्त आपका पुराना है.

 

बेशक कुछ पल का इंतजार मिला हमको,
पर खुदा से बढ़ कर प्यार मिला हमको,
न रही तमन्ना किसी जन्नत की,
ऐ दोस्त तेरी दोस्ती से वो प्यार मिला हमको.