155+ Pyar Bhari Line in Hindi | प्यार भरी लाइन हिन्दी में

Pyar Bhari Line in Hindi, प्यार भरी शायरी दो लाइन फोटो, Pyar Bhari 2 Line Shayari in Hindi, प्यार भरी लाइन हिन्दी में, प्यार भरी शायरी चार लाइन, Mohabbat Bhari Line in Hindi, २ लाइन रोमांटिक शायरी इन हिंदी, Pyar Bhari Line in Hindi, हिन्दी शायरी प्यार भरी दो लाइन.

Pyar Bhari Line in Hindi 2021

शिकायतें मुझे भी बहुत है तुमसे
पर मेरे इश्क का वजन उससे ज्यादा है.

 

लहरों से लड़ा करती हूँ दरिया में उतर कर।
साहिल पे खड़े होकर मैं साजिश नहीं करती।

 

जिसने तुम्हें चाहा नहीं ..,
उस शख्स को मैं मिल रही हूँ ये इंसाफ़ थोड़े है…!!

Best Pyar Bhari Line in Hindi

अब किसी ग़ैर का क़ब्ज़ा है उनकी बाँहों पर…!!
यानी बेघर हैं हम अपना मकान होते हुए…!!!

 

जिंदगी खराब तब होती है …
जब दिमाग वालों को दिल में जगह दी जाती है..

 

ये ना पूछो कि क्या हो तुम…
सांस रोक कर जी जाए, ऐसी ज़िन्दगी हो तुम…❤️

Mohabbat Bhari Line in Hindi

समेट लीजिए इक बार खुलकर बाहों में..!!
कोई पूछे तो कह देना इश्क़ की रात है आज..!!

 

देख नहीं पाता अब भी मुझे किसी और के साथ.
और कहता है मुझसे नफ़रत करता है..

 

आज फिर से छाए हैं उनकी रहमत के बादल…
किस्मत में भीगना लिखा है या तरसना खुदा जाने !!

Mohabbat Shayari in Hindi

आज फिर से छाए हैं उनकी रहमत के बादल…
किस्मत में भीगना लिखा है या तरसना खुदा जाने !!

 

गुजरना पड़ता है ज़िंदगी को कई मानसूनो से,
फक़त एक बारिश से ज़मीं की तपिश नहीं जाती॥

 

सांस के साथ ही जंज़ीर-ए-वफ़ा टूटती है..
तू नहीं जानता गैरो की बांहो में सिमटने वाले..

Hindi Pyar Bhari Line in Hindi

मेरे कंधे पर कुछ यूँ गिरे तेरे आंसू…!!
कि सस्ती सी कमीज अनमोल हो गयी…!!!

 

मुखालफत मेरी शख्सियत सवार देती है
मैं जलने वालों का बड़ा एहतराम करती हूं..!!

 

दो पल की मोहब्बत
जिंदगी भर की खुशी ले जाती है
और तोहफ़े में दे जाती है दुख, तड़प और टूटा विश्वास !!

Pyar Bhari Line Hindi Mein

जहाँ कदर मिली वहाँ दिल गया
फिर लोग कहते है इन्सान बदल गया….।

 

हम बेकसूर लोग भी दिलचस्प हैं बड़े ….
शर्मिंदा भी हो लेते है, कोई खता किए बगैर..!!

 

मजबूरियों ने बेशक तुझसे जुदा कर दिया…!!
मगर मोहब्बत तुझसे आज भी है मुझे…!!!

Pyar Bhari Shayari in Hindi

हमसे मत पूछो कि हमारी हद कहाँ तक है,
बेपरवाह से हैं तुम्हारी रज़ा जहाँ तक है..!!

 

अगर ख़िलाफ़ हैं होने दो जान थोड़ी है…!!
ये सब धुआँ है कोई आसमान थोड़ी है…!!!

 

ज़िन्दगी ने मेरे दर्द का क्या खूब इलाज सुझाया
वक्त को दवा बताया ख्वाहिशों से परहेज़ बताया..

Mohabbat Shayari in Hindi

लबो से छुकर लफ्ज़ो का कलाम ले लीजिये …
एक बार अपने होंठो से मेरा नाम ले लीजिये…

 

नफरत सी होने लगी है इस सफ़र से अब…!!
ज़िंदगी कहीं तो पहुँचा दे खत्म होने से पहले…!!!

 

कौन भूल पाता है जुदाई का वो दिन,
हर शख्स के पास एक तारीख पुरानी होती है.

Mohabbat Bhari Line in Hindi

आज फिर से छाए हैं उनकी रहमत के बादल…
किस्मत में भीगना लिखा है या तरसना खुदा जाने !!

 

इजहार-ए-इश्क़ करूँ या पूछ लूँ तबियत उनकी
ऐ दिल कोई तो बहाना बता उनसे बात करने का !

ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं है साहब,
लोगों की आदत है, सामने सलाम पीछे बदनाम…

सिर्फ एक बहाने की तलाश होती है,
निभाने वाले को भी और जाने वाले को भी !!

ढूढ़ना ही है तो परवाह करने वालों को ढूंढ़िये साहेब,
इस्तेमाल करने वाले तो ख़ुद ही आपको ढूंढ लेंगे…!!

ठुकरा दे कोई चाहत को तू हस के सह लेना,
प्यार की तबियत में ज़बर जस्ती नहीं होती••• !

नज़र और नसीब में भी क्या इत्तफ़ाक़ है…
नज़र उसे ही पसंद करती है जो नसीब में नही होता…!!

कहीं पर गम कहीं सरगम ये कुदरत के ही तो नज़ारे हैं…
प्यासे तो वो भी रह जाते हैं घर जिनके दरिया किनारे हैं..

मै उस उम्र मै भी तुम्हारे कानो मै झमुके बांध दूंगा,
जिस उम्र मै मेरे हाथ काँप रहे होंगे..

अगर सच में किसी का साथ जिंदगी भर चाहते हो तो..
उसे कभी मत बताओ कि तुम उसे कितना चाहते हो..

जितनी भीड़ बढ रही है ज़माने में,
लोग उतने ही* अकेले होते जा रहे हैं..!!

मेरे कमरे में तेरे ख्वाहिशों के बयान अब भी मिलते हैं,
तेरी तस्वीर पे मेरे उंगलियों के निशान अब भी मिलते हैं।

तुम्हारे बाद गुजरेंगे भला कैसे हमारे दिन
नवंबर से बचेंगे तो दिसंबर मार डालेगा.

दिल चाहता है होठों पर होठ रखकर सो जाऊं, की नवंबर की रात है कहीं तुम्हे ठंड ना लगने लगे..!

तुम मुझे जितनी इज़्ज़त दे सकते थे दे दी
अब तुम देखो मेरा सबर और मेरी ख़ामोशी…!!

छुपे-छुपे से रेहते हैं सरेआम नही होते
कुछ रिशते सिर्फ अहसास हैं,उनके नाम नही होते.

सुनो…….
मैंने तुम्हें सिर्फ अपना दिल ही नहीं दिया…💞
इस दिल में चलती हर सासं तुम्हारे नाम की है……..💞

मन को मिलने वाला सुकून भी तुम…!!
दिल में होने वाली बेचैनी की वजह भी तुम…!!!! ❤️

बदल ही देते है चेहरे की रंगत
ये इश्क भी किसी सर्जरी से कम नही होता

कहाँ ढूँढ़ते हो तुम इश्क़ को-ऐ-बेखबर
ये ख़ुद ही ढूंढ़ लेता है जिसे बर्बाद करना हो !

मेरी मोहब्बत की मौत हो चुकी है ,
जनाज़े का ऐलान बाद में किया जाएगा

तुम्हारी याद और सर्दियों का ये मौसम…
लोग ठिठुरते होंगे पर मैं तो सुलगता रहता हूं…

पाना और खोना तो किस्मत की बात है,
मगर चाहते रहना तो अपने हाथ में है… !!

कल तेरी तस्वीर मुकम्मल की मैंने
फ़ौरन उस पर तितली आ कर बैठ गई.