[Top 55+] Romantic Gulzar Shayari Hindi। गुलजार साहब की मशहूर शायरी

Romantic Gulzar Shayari on Love : गुलज़ार साहब के लिखें हुए कुछ दिल को छू जाने वाले शायरिया, ग़ज़लें, रोमांटिक कोट्स,कविताये, (Romantic Gulzar Shayari on Love Hindi) हम आप सब के लिए शेयर कर रहे है ! जो आज भी हर किसी के होठों पर हमेशा रहते हैं, वही गुलज़ार साहब आज भी अपने शब्दों के जादू से सब के दिलो पर राज कर रहे हैं। 


Romantic Gulzar Shayari on Love

 

ज़माने में तन्हाइयो  का आलम तो देखिये,
हम खुद को ताकते है ले ले के सेल्फियां!

JAMANA ME TANHAIYO KA AALAM TO DEKHIYE,
HAM KHUD KO TAKATE HAI LE LE KE SELFIYAN.

 

कई जरिया है कुछ कहने के ,
उनमे से एक जरिया है कुछ  न कहने की !!

KAI JARIYA HAI KUCHH KAHNE KE,
UNME SE EK JARIYA HAI KUCHH N KAHNE KI.

 

गुलजार साहब की मशहूर शायरी

 

सुकून उसी के पास मिलता है,
दिन चाहे किसी के साथ गुजर लू १!

SUKUN USI KE PASS MILTA HAI,
DIN CHAHE KISI KE SATH GUJAR LOON.

 

तुझे पहचानूंगा कैसे? तुझे देखा ही नहीं
ढूँढा करता हूं तुम्हें अपने चेहरे में ही कहीं !

TUJHE PAHCHANUNGA KAISE, TUJHE DEKHA HI NAHI
DHUDHA KARTA HU TUMHE APNE CHEHRE ME HI KAHI.

 

 Gulzar Love Shayari in Hindi

 

सीखा दिया वक्त ने मुझे अपनों पे भी शक करना,
वरना फितरत थी गैरो पर भी भरोसा करने की !!

SIKHA DIYA WAQT NE MUJHE APNE PE BHI SAQ KARNA,
WARNA FITARAT THI GAIRO PAR BHI BHAROSA KARNE KI.

 

लोग कहते हैं मेरी आँखें मेरी माँ सी हैं
यूं तो लबरेज़ हैं पानी से मगर प्यासी हैं !

LOG KAHTEN HAI MERI AANKHE MERI MAA SI HAI,
YU TO TABREJ HAI PANI SE MAGAR PYARI HAI.

 

Gulzar Sahab Ki Love Shayari

 

उम्र गुजर गई पर कोई तुम सा नहीं मिला,
लोग यु ही कहते है की खोजने से खुदा भी मिलता है !!

UMAR GUJAR GAYI PAR KOI TUM SA NAHI MILA,
LOG YU HI KAHTE HAI KI KHOJNE SE KHUDA BHI MILTA HAI.

 

पानी से भरी आँखे लेकर वह मुझे घूरता ही रहा,
वह आईना में खड़ा शख्स परेशान बहुत था !!

 

गुलजार साहब की मशहूर शायरी

 

जाने वाले को जाने दीजिये,
आज रुक भी गया तो कल चला जायेगा !!

JAANE WALE KO JANE DIJIYE,
AAJ RUK BHI GYA TO KAL CHALA JAYEGA.

 

मोहब्बत करने वालो की कमी नहीं इस दुनिया में,
अकाल पड़ा है मोहब्बत निभाने वालो का !!

MOHABBAT KARNE WALO KI KAMI NAHI IS DUNIYA ME,
AKAL PADA HAI MOHABBAT NIBHANE WALO KA.

 

Gulzar Shayari in Hindi 2 Lines

 

दिल पर दस्तक देने कौन आ निकला है,
किस की आहट सुनता हूँ वीराने में !!

DIL PAR DASTAK DENE KAUN AA NIKLA HAI,
KIS KI AAHAT SUNTA HU VIRANE ME.

 

कभी तो चौंक के देखे कोई हमारी तरफ़
किसी की आँख में हम को भी इंतिज़ार दिखे!

KABHI TO CHAUK KE DEKH HAMARI TARAF,
KISI KI AANKH ME HAMKO BHI INTIZAR DIKHE.

 

गुलजार साहब की मशहूर शायरी

 

बहुत मुश्किल से करता हूँ,तेरी यादों का कारोबार,
मुनाफा कम है,पर गुज़ारा हो ही जाता है !!

BAHUL MUSKIL SE KARTA HU, TERI YADO KA KAROBAR,
MUNAFA KAM HAI PAR GUJARA HO HI JATA HAI.

 

आँखों से आँसुओं के मरासिम पुराने हैं,
मेहमाँ ये घर में आएँ तो चुभता नहीं धुआँ !!

 

Gulzar Sahab Ki Love Shayari

 

सिर्फ एहसास है यह रूह से महसूस करो,
प्यार को प्यार ही रहने दो कोई नाम ना दो !!

SIRF YEHSAS HAI YAH ROH SE MAHSUS KARO,
PYAR KO PYAR HI RAHNE DO KOI NAAM NA DO.

 

आज दिल कर रहा था बच्चो की तरह रूठ ही जाऊ ,
पर फिर सोचा, उम्र का तकाजा है मनायेगा कौन !!

AAJ DIL KAR RAHA THA BACHHO KI TARAH RUTH HI JAU,
PAR PHIR SOCHA,UMAR KI TAKAJA HAI MANAYEGA KAUN.

 

Gulzar Shayari in Hindi 2 Lines

 

वो जो कहते थे की वक्त ही वक्त है तुम्हारे लिए,
आज कहते है तुम्हारे सिवा और भी काम होते है !!

WO JO KAHTE THE KI WAQT HI WAKT HAI TUMHARE LIYE,
AAJ KAHTE HAI TUMHARE SIWA AAUR BHI KAAM HOTE HAI.

 

नासमझ है वो अभी मेरी बात नहीं समझेगा,
मेरी जगह नहीं है ना, मेरे हालत नहीं समझेगा !!

NA SAMAJH HAI WO ABHI MERI BAAT NAHI SAMJHEGA,
MERI JAGAH NAHI HAI NA,MERE HALAT NAHI SAMJHEGA.

 

Romantic Gulzar Shayari on Love

 

तुमको ग़म के ज़ज़्बातों से उभरेगा कौन,
अग़र हम भी मुक़र गए तो तुम्हें संभालेगा कौन !

TUMKO GAM KE JAJBATO SE UBHREGA KAUN,
AGAR HAM BHI MUKAR GAYE TO TUMHE SAMBHALEGA KAUN.

 

खता उनकी भी नहीं यारो वो भी क्या करते,
बहुत चाहने वाले थे किस किस से वफ़ा करते !

KHATA UNKI BHI NAHI YARON WO BHI KYA KARTE,
BAHUT CHAHNE WALE THE KIS KIS SE WAFA KARTE.