Miss You Shayari in Hindi | 200+ मिस यू शायरी हिन्दी में

Miss You Shayari in Hindi | Miss You Shayari Sms in Hindi | Miss U Status in Hindi |  Miss U Shayari in Hindi for Girlfriend | Miss You Shayari in English | Miss You Sms in Hindi | मिस यू शायरी हिन्दी में.

Miss You Shayari in Hindi

आज तेरी याद हम सीने से लगा कर रोये
तन्हाई मैं तुझे हम पास बुला कर रोये
कई बार पुकारा इस दिल मैं तुम्हें
और हर बार तुम्हें ना पाकर हम रोये !!

 

Aaj Teri Yaad Hum Sine Se Laga Kar Roye,
Tanhai Me Tujhe Ham Pass Bula kar Roye,
Kae Baar Pukara Is Dil Main Tumhe,
Aur Har Baar Tumhe Na Pakar Hum Roye.

 

ओस की बूंदे है, आंख में नमी है,
ना उपर आसमां है ना नीचे जमीन है
ये कैसा मोड है जिन्‍दगी का जो लोग खास है
उनकी ही कमी हैं !!

 

Os Ki Bunde Hai, Aankh Me Nami Hai,
Na Upar Aasma Hai Na Niche Jamin Hai,
Ye Kaisa Mod Hai Zindgi ka Jo Log Khas Hai,
Unki Hi Kami Hai.

 

सोचा था इस कदर उनको भूल जाएँगे,
देखकर भी अनदेखा कर जाएँगे,
पर जब जब सामने आया उनका चेहरा,
सोचा एस बार देखले, अगली बार भूल जाएँगे !!

 

Socha Tha Is Kadar Unko Bhul Jayege,
Dekhkar bhi Andekha kar Jayege,
Par Jab Jab Samne Aaaya Unka Chehra,
Socha Is Baar Dekhle,Agli Baar Bhul Jayege.

 

कभी आँसू तो कभी मुस्कान आ जाती हैं।
जब तेरी याद मेरे दिल के मकान आ जाती हैं।
ये इश्क़ हैं तेरा या दिल कि नादानी।
हर लम्हा तेरी याद आ जाती हैं।

 

Kabhi Aasu To Kabhi Muskan Aa Jati Hai,
Jab Teri Yad Mere Dil Ke Mkan Aa Jati Hai,
Ye Eask Hai Tera Ya Dil Ki Nadani,
Har Lamha Teri Yad Aa Jati Hai,

 

Miss You Shayari in Hindi

दिल में आप हो और कोई खास कैसे होगा,
यादों में आपके सिवा कोई पास कैसे होगा,
हिचकियॉं कहती हैं आप याद करते हो,
पर बोलोगे नहीं तो मुझे एहसास कैसे होगा..!!

 

सभी नगमे साज़ मैं गाये नहीं जाते …
सभी लोग महफ़िल मैं बुलाये नहीं जाते …
कुछ पास रह कर भी याद नहीं आते …
कुछ दूर रह कर भी भुलाये नहीं जाते …

 

Sabhi Nagme Shaj Mai Gaaye Nahi Jate,
Sabhi Log Mahphil Mai Bulayae Nahi Jate,
Kuchh Pass Rah Kar Bhi Yaad Nahi Aate,
Kuchh Dur Rah Kar Bhi Bhulaye Nahi Jate.

 

न वो आ सके न हम कभी जा सके !
न दर्द दिल का किसी को सुना सके !
बस बैठे है यादों में उनकी !
न उन्होंने याद किया और न हम उनको भुला सके !!

 

Na Wo Aa Sake Na Hum Kabhi Ja Sake,
Na Dard Dil Ka Kisi Ko Suna Sake,
Bus Baithe Hai Yaado Me Unki,
Na Unhone Yaad Kiya Aur Na Hum Unko
Bhula Sake.

 

तेरी आँखों में हमे जाने क्या नज़र आया!
तेरी यादों का दिल पर सरुर है छाया!
अब हमने चाँद को देखना छोड़ दिया!
और तेरी तस्वीर को दिल में छुपा लिया!

 

Teri Aankho Me Hume Jane Kya Nazar Aaya,
Teri Yaado Ka Dil Par Surur Hai Chhaya,
Ab Hamne Chand Ko Dekhna Chhod Diya,
Aur Teri Tasveer Ko Dil Me Chhupa Liya.

 

Miss You Shayari in English

कलम चलती है तो दिल की आवाज लिखता हूँ;
गम और जुदाई के अंदाज़-ए-बयां लिखता हूँ;
रुकते नहीं हैं मेरी आँखों से आंसू;
मैं जब भी उसकी याद में अल्फाज़ लिखता हूँ।

 

Kalam Chalti Hai To Dil Ki Awaz Likhta Hu,
Gaam Aur Judai Ke Andaz e Byan Likhta Hu,
Rukte Nahi Hai Meri Ankho Se Aansu,
Mai Jab Bhi Uski Yaad Me Alfaz Likhta Hu.

 

इस दुनियाँ में सब कुछ बिकता है,
फिर जुदाई ही रिश्वत क्युँ नही लेती?
मरता नहीं है कोई किसी से जुदा होकर,
बस यादें ही हैं जो जीने नहीं देती..

 

Es Duniya Me Sab Kuchh Bikta Hai,
Phir Judai Hi Riswat Kyu Nahi Leti,
Marta Nahi hai koi Kisi Se Juda Hokar,
Bas Yaaden Hi Hai Jo Jine Nahi Deti.

 

अपने दिल की सुन अफवाहो में काम ना ले।
मुझे याद रख बेशक नाम ना ले।
तेरा वहम हैं कि हम भूल गये तुझे।
मेरी ऐसी कोई सांस नहीं जो तेरा नाम ना ले।

 

Apne Dil Ki Sun Afhwaho Me Kam Na Le,
Mujhe Yad Rakh Besak Nam Na Le,
Tera Waham Hai Ki Ham Bhul Gye Tujhe,
Meri Yesi Koei Sas Nhi Jo Tera Nam Na Le.

 

याद किसी को करना ये बात नहीं जताने की!
दिल पे चोट देना आदत है ज़माने की!
हम आपको बिल्कुल नहीं याद करते!
क्योकि याद किसी को करना निशानी है भूल जाने की!

 

Miss You Shayari in Hindi

दिल जब टूटता है तो आवाज नहीं आती!
हर किसी को मुहब्बत रास नहीं आती!
ये तो अपने-अपने नसीब की बात है!
कोई भूलता नहीं और किसी को याद भी नहीं आती!

 

तुम करोगे याद एक दिन इस प्यार के ज़माने को,
चले जाएँगे जब हम कभी ना वापस आने को.
करेगा महफ़िल मे जब ज़िक्र हमारा कोई,,,,
तो तुम भी तन्हाई ढूंढोगे आँसू बहाने को

 

ये मत कहना कि तेरी याद से रिश्ता नहीं रखा;
मैं खुद तन्हा रहा मगर दिल को तन्हा नहीं रखा;
तुम्हारी चाहतों के फूल तो महफूज़ रखे हैं;
तुम्हारी नफरतों की पीड़ को ज़िंदा नहीं रखा!

 

जीना चाहते हैं मगर ज़िन्दगी रास नहीं आती!
मरना चाहते हैं मगर मौत पास नहीं आती!
बहुत उदास हैं हम इस ज़िन्दगी से!
उनकी यादें भी तो तड़पाने से बाज़ नहीं आती!

 

तुम अगर याद रखोगे तो इनायत होगी;
वरना हमको कहां तुम से शिकायत होगी;
ये तो बेवफ़ा लोगों की दुनिया है;
तुम अगर भूल भी जाओ जो रिवायत होगी!

 

सारी उम्र आंखो मे एक सपना याद रहा;
सदियाँ बीत गयी पर वो लम्हा याद रहा;
ना जाने क्या बात थी उनमे और हममे;
सारी महफ़िल भुल गये बस वह चेहरा याद रहा!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *